UP Free Boring Yojana 2024:(यूपी फ्री बोरिंग योजना)

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई यूपी फ्री बोरिंग योजना 2024 का उद्देश्य राज्य के किसानों को कृषि सिंचाई में सहायता प्रदान करना है। इस योजना के तहत, किसानों को मुफ्त बोरिंग की सुविधा उपलब्ध कराई जाती है, जिससे उन्हें सिंचाई के लिए पानी की समस्या का सामना नहीं करना पड़े।

यह योजना विशेष रूप से उन छोटे और सीमांत किसानों के लिए लाभकारी है, जो महंगे बोरवेल और सिंचाई उपकरणों का खर्च नहीं उठा सकते। यूपी फ्री बोरिंग योजना 2024 के माध्यम से राज्य सरकार का उद्देश्य किसानों की फसलों की पैदावार को बढ़ाना और उनकी आर्थिक स्थिति को सुधारना है। इस योजना के तहत, किसानों को बोरिंग के लिए आवश्यक तकनीकी सहायता और वित्तीय मदद भी प्रदान की जाती है, जिससे वे अपनी कृषि गतिविधियों को सुचारू रूप से संचालित कर सकें और उत्पादन में वृद्धि कर सकें।

यूपी फ्री बोरिंग योजना Overall (संक्षिप्त) जानकारी

विवरणजानकारी
योजना का नामयूपी फ्री बोरिंग योजना 2024
उद्देश्यकिसानों को मुफ्त बोरिंग सुविधा प्रदान करके सिंचाई की समस्या का समाधान
लाभार्थीउत्तर प्रदेश के छोटे और सीमांत किसान
मुख्य लाभमुफ्त बोरवेल बोरिंग की सुविधा, तकनीकी सहायता, और वित्तीय मदद
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन और ऑफलाइन आवेदन प्रक्रिया उपलब्ध
आवश्यक दस्तावेजआधार कार्ड, निवास प्रमाण पत्र, भूमि के कागजात, पासपोर्ट साइज फोटो
प्रमुख उद्देश्यकिसानों की फसल उत्पादन में वृद्धि और उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार
पात्रता मानदंडउत्तर प्रदेश का स्थायी निवासी, छोटे और सीमांत किसान
क्रियान्वयन एजेंसीउत्तर प्रदेश सरकार के कृषि विभाग
संपर्क जानकारीकृषि विभाग के स्थानीय कार्यालय या आधिकारिक वेबसाइट

UP फ्री बोरिंग योजना 2024

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ‘यूपी फ्री बोरिंग योजना 2024’ का शुभारंभ किया है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य उत्तर प्रदेश के किसानों को मुफ्त में बोरिंग सुविधा प्रदान करना है, ताकि वे अपनी फसलों की सिंचाई को सुचारू रूप से संचालित कर सकें। यह योजना विशेष रूप से छोटे और सीमांत किसानों के लिए है, जो बोरवेल या सिंचाई उपकरणों के खरीद पर वित्तीय दिक्कतों से जूझ रहे हैं। इसके माध्यम से, सरकार ने किसानों को आर्थिक सहायता और तकनीकी समर्थन भी प्रदान करने का वादा किया है।

यूपी फ्री बोरिंग योजना की अनुदान राशि (GRANT AMOUNT)

किसानों की श्रेणीअनुदान राशि ( बोरिंग निर्माण हेतु )अनुदान राशि (पंप सेट स्थापना होती)
सामान्य श्रेणी के लघु किसान₹3000 प्रति बोरिंगयूनिट कास्ट ₹11300 का 25% अधिकतम ₹2800 प्रति पंप सेट
सामान्य श्रेणी के सीमांत किसान₹4000 प्रति बोरिंगयूनिट कास्ट ₹11300 का 33% अधिकतम ₹3750 प्रति पंप सेट
अनुसूचित जाति/जनजाति के लघु/सीमांत किसान₹6000 प्रति बोरिंयूनिट कास्ट ₹11300 का 50% अधिकतम ₹5650 प्रति पंप सेट

UP फ्री बोरिंग योजना लाभ के लिए योग्यता (eligibility criteria)

‘यूपी फ्री बोरिंग योजना’ के लाभ प्राप्त करने के लिए निम्नलिखित योग्यता मानदंड हो सकते हैं (ये जानकारी अपडेटेड हो सकती है):

  1. किसानों की श्रेणी: योजना छोटे और सीमांत किसानों को लक्ष्य बनाती है, जो कि आर्थिक रूप से कमजोर हो सकते हैं और सिंचाई के लिए उपकरणों को खरीदने में असमर्थ हो सकते हैं।
  2. नागरिकता: योजना का लाभ उत्तर प्रदेश के निवासियों को ही मिल सकता है।
  3. कृषि भूमि: योजना के अंतर्गत, उस किसान को लाभ मिल सकता है जिसके पास कृषि भूमि है और जिसे सिंचाई की सुविधा की आवश्यकता हो।
  4. आवश्यक दस्तावेज़: आवेदन के समय पर आवश्यक दस्तावेजों की प्रमाणित प्रति, जैसे कि आधार कार्ड, निवास प्रमाण पत्र, भूमि संबंधी दस्तावेज़ और अन्य सरकारी पहचान पत्र।
  5. किसान की आर्थिक स्थिति: योजना की योग्यता के तहत, उस किसान की आर्थिक स्थिति का मूल्यांकन किया जा सकता है, ताकि योजना के लाभ का सही उपयोग हो सके।

योजना की पूरी जानकारी और विवरण प्राप्त करने के लिए, आधिकारिक वेबसाइट और स्थानीय कृषि विभाग की समर्थन ली जा सकती है।

यूपी फ्री बोरिंग योजना में जरूरी दस्तावेज: (Required document)

‘यूपी फ्री बोरिंग योजना’ के लिए आवश्यक दस्तावेज़ (Required documents) निम्नलिखित हो सकते हैं:

  1. आधार कार्ड: योजना के लिए आवेदन करने वाले किसान का आधार कार्ड आवश्यक होता है। यह उनकी पहचान प्रमाणित करने के लिए आवश्यक है।
  2. निवास प्रमाण पत्र: निवास प्रमाण पत्र उस स्थान की प्रमाणित प्रति होनी चाहिए जहां से किसान संचाई सुविधा का लाभ लेना चाहता है।
  3. भूमि संबंधी दस्तावेज़: यदि आवेदक किसान है, तो उसे अपनी कृषि भूमि के संबंध में समर्थन प्रदान करने वाले दस्तावेज़ जैसे कि खसरा/खतौनी या अन्य संबंधित दस्तावेज़ की आवश्यकता हो सकती है।
  4. पासपोर्ट साइज फोटो: योजना के आवेदन पत्र में अक्सर एक या दो पासपोर्ट साइज फोटो की आवश्यकता होती है।
  5. अन्य सरकारी पहचान पत्र: यदि आवश्यक हो, तो किसान के पास अन्य सरकारी पहचान पत्र जैसे कि वोटर आईडी कार्ड, राशन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस आदि हो सकते हैं।

इन दस्तावेज़ को संबंधित योजना के आवेदन प्रक्रिया में जमा करना आवश्यक हो सकता है। आवेदन करने से पहले, निर्दिष्ट दस्तावेज़ की पूरी सूची को स्थानीय योजना के अधिकारियों से पुष्टि करना सुनिश्चित करें।

UP फ्री बोरिंग योजना 2024 में आवेदन कैसे करें

‘यूपी फ्री बोरिंग योजना 2024’ में आवेदन करने के लिए निम्नलिखित कदमों का पालन करें:

  1. आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं: उत्तर प्रदेश सरकार की आधिकारिक वेबसाइट (minorirrigationUP.gov.in)पर जाएं। वहां योजना के बारे में विस्तृत जानकारी और आवश्यक दस्तावेज़ की सूची देखें।
  2. रजिस्ट्रेशन/आवेदन फॉर्म डाउनलोड करें: आधिकारिक वेबसाइट से योजना के लिए आवेदन फॉर्म डाउनलोड करें और इसे ध्यानपूर्वक पढ़ें।
  3. आवश्यक दस्तावेज़ तैयार करें: आवेदन फॉर्म के साथ आवश्यक दस्तावेज़ जैसे कि आधार कार्ड, निवास प्रमाण पत्र, भूमि संबंधी दस्तावेज़, और पासपोर्ट साइज फोटो तैयार करें।
  4. आवेदन फॉर्म भरें: आवश्यक दस्तावेज़ के साथ आवेदन फॉर्म को भरें और सभी आवश्यक जानकारी जैसे कि नाम, पता, और कृषि भूमि के विवरण दें।
  5. आवेदन सबमिट करें: भरे गए आवेदन फॉर्म को संबंधित विभाग या समर्थन केंद्र में सबमिट करें। आवेदन के साथ सभी आवश्यक दस्तावेज़ भी समर्पित करें।
  6. अनुशासन से प्रतीक्षा करें: आवेदन सबमिट करने के बाद, समर्थन केंद्र या विभाग द्वारा आपके आवेदन की प्रक्रिया पूरी होने तक धैर्य रखें। आपको आवश्यकतानुसार आगामी स्टेप्स लिए जाएंगे।

इस प्रक्रिया के अलावा, आप स्थानीय कृषि विभाग या सरकारी कार्यालय में भी जाकर योजना के बारे में विस्तार से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। आपके इलाके में योजना से संबंधित सहायता भी प्राप्त की जा सकती है।

यूपी फ्री बोरिंग योजना के आवेदन की स्थिति जांचें : Check Status

‘यूपी फ्री बोरिंग योजना’ के आवेदन की स्थिति जांचने के लिए निम्नलिखित कदम अनुसरण करें:

  1. आधिकारिक वेबसाइट पर लॉग इन करें: उत्तर प्रदेश सरकार की आधिकारिक वेबसाइट (minorirrigationUP.gov.in) पर जाएं।
  2. लॉग इन करें: अपने उपयोगकर्ता नाम और पासवर्ड का उपयोग करके लॉग इन करें। यदि आपके पास आवेदन ID और पासवर्ड है, तो उन्हें भी लॉग इन में प्रयोग करें।
  3. आवेदन की स्थिति जांचें: लॉग इन करने के बाद, योजना के आवेदन की स्थिति जानने के लिए अपने डैशबोर्ड पर जाएं। वहां आपको आवेदन की विस्तृत स्थिति देखने का विकल्प मिलेगा।
  4. हेल्पलाइन नंबर या समर्थन केंद्र से संपर्क करें: यदि आपको आवेदन की स्थिति जांचने में किसी भी प्रकार की समस्या होती है, तो आप स्थानीय हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क कर सकते हैं या समर्थन केंद्र जा सकते हैं।
  5. अनुसरण और प्रतीक्षा: अपने आवेदन की प्रक्रिया के बारे में अनुसरण करते रहें और समर्थन केंद्र या विभाग से प्राप्त किए गए निर्देशों का पालन करें। आपको अपडेट्स मिलेंगे जब भी आवश्यक हो।

यह तरीका आपको अपने ‘यूपी फ्री बोरिंग योजना’ के आवेदन की स्थिति जांचने में मदद करेगा। अगर आपके पास अधिक सहायता की आवश्यकता हो, तो स्थानीय कृषि विभाग या सरकारी कार्यालय से संपर्क करना भी एक विकल्प है।

FAQ’s : UP Free Boring Yojana 2024

Q1: यूपी फ्री बोरिंग योजना 2024 क्या है?

उत्तर: यूपी फ्री बोरिंग योजना 2024 उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई एक योजना है जिसका उद्देश्य किसानों को मुफ्त में बोरिंग सुविधा प्रदान करना है, ताकि वे अपनी कृषि भूमि को सिंचित कर सकें। यह योजना स्वयं रोजगार सृजन में भी सहायक है और छोटे और सीमांत किसानों को विशेष रूप से लक्ष्य बनाती है।

Q2: यूपी फ्री बोरिंग योजना के लाभ क्या हैं?

उत्तर: इस योजना के लाभ निम्नलिखित हैं:
मुफ्त में बोरिंग सुविधा प्राप्त करने का विशेष अवसर।
कृषि उत्पादकता में वृद्धि के लिए सिंचाई की सुविधा प्रदान करना।
छोटे और सीमांत किसानों के लिए आर्थिक समर्थन प्रदान करना।
उत्तर प्रदेश में स्वयं रोजगार के अवसर सृजन करना।

Q3: यूपी फ्री बोरिंग योजना के लिए आवेदन कैसे करें?

उत्तर: यूपी फ्री बोरिंग योजना के लिए आवेदन करने के लिए निम्नलिखित कदमों का पालन करें:
यूपी सरकार की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं और योजना के बारे में सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त करें।
आवेदन फॉर्म डाउनलोड करें और उसे भरें, साथ ही सभी आवश्यक दस्तावेज़ संलग्न करें।
आवेदन को संबंधित विभाग या समर्थन केंद्र में सबमिट करें और अपने आवेदन की प्रक्रिया का अनुसरण करें।

Leave a Comment